गुरु नानक जयंती Quotes In Hindi

दोस्तों, गुरु नानक जी एक ऐसे व्यक्तित्व के व्यक्ति रहे हैं जिन्होंने बताया कि धर्म क्या है और कैसे जीवन जीना चाहिए|आज इस आर्टिकल के माध्यम से मै आपको बता रहा हूँ कुछ गुरु नानक जी के विचार और उनके रचित रचनाएँ उम्मीद है आपको बेहद पसंद आएगा|वैसे हम सभी जानते हैं गुरु नानक जी अपने व्यक्तित्व में दार्शनिक, योगी, गृहस्थ, धर्मसुधारक, समाजसुधारक, कवि, देशभक्त और विश्वबंधु – सभी के गुण समेटे हुए थे|उनका जीवन त्याग में ही लीं था|

गुरु नानक quotes

गुरु नानक जी गुरु नानक जी अच्छे कवि रहे हैं जिनकी बहुत सी रचनाएँ सुविख्यात हैं और उनके पद में एक अलग ही व्यक्तित्व का दर्शन होता है इनका जन्म 15 अप्रैल 1469 को ननकाना साहिब तलवंडी में हुआ था|इनके पिता कल्यानचंद और माता का नाम तृप्ता देवी|आपको बताये इनको हिंदी, फारसी, संस्कृत और पंजाबी आदि भाषाओ का अच्छा ज्ञान था|आइये इनके कुछ hindi quotes देखते हैं और लुफ्त उठाते हैं|

गुरु नानक Quotes –

गुरु नानक quotes

“नानक नीच कहे विचार,
वारेया ना जावाँ एक वार;
जो तुध भावे साईं भली कार,
तू सदा सलामत निरंकार।
गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व की आपको बधाई|”

इसे भी पढ़ें – दीवाली 2017 HD wallpaper.

गुरु नानक quotes

“करुणा को रुई, सन्तोष को धागा

नम्रता को गाँठ और सत्यता को मरोड़ बनाओ

यह आत्मा का पवित्र धागा है

तब आगे बढ़ो और इसे मुझपर डाल दो|”

गुरु नानक quotes

“कोई भी ईश्वर को तर्क-वितर्क द्वारा नहीं जान सकता 

फिर चाहे कोई युगों तक ही तर्क्-वितर्क क्यों न करता रहे|”

गुरु नानक quotes

“प्रभु के लिए खुशियों के गीत गाओ

प्रभु के नाम की सेवा करो

और उसके सेवकों के सेवक बन जाओ|”

गुरु नानक quotes

“ना मैं एक बच्चा हूँ

ना एक नवयुवक

ना ही मैं पौराणिक हूँ

ना ही किसी जाति का हूँ|”

गुरु नानक quotes

“दूब की तरह छोटे बनकर रहो

जब घास-पात जल जाते हैं

तब भी दूब जस की तस बनी रहती है|”

“तुमने सिखाया उंगली पकड़कर चलना

तुमने बताया कैसे गिरने पर है संभलना

तुम्हारी वजह से आज हम पहुंचे इस मुकाम पे

गुरु पूरब बीते प्रभु नाम में

हैप्पी गुरु नानक जयंती|”

इसे भी पढ़ें – Halloween HD wallpaper.

गुरु नानक quotes

“तेरी हजारों आँखें हैं और फिर भी एक आंख भी नहीं

तेरे हज़ारों रूप हैं फिर भी एक रूप भी नहीं|”

“जन को नदरि कर्म तिन कार

नानक नदरी नदिर निहाल

गुरु नानक देव जी के गुरुपुरब की आप को बधाई|”

“मन में सींचो हर हर नाम अंदर कीर्तन होर गुण गाम

ऐसी प्रीत करो मन मेरे आठ पहर प्रभ जानो नेहरे

कहो गुरु जी का निर्मल बाग हर चरणी ता का मन लाग

नानक नीच कहे विचार वारिआ ना जावा एक वार

जो तुद भावे साई भली कार तू सदा सलामत निरंकार

गुरुपुरब दी लख लख बधाई|”

इसे भी पढ़ें – गुरु नानक देव जी का जीवन परिचय|

गुरु नानक quotes

“काकी मात-पिता सुत बनिता

को काहू को भाई|”

दोस्तों, मुझे उम्मीद है आपको मेरा ये पोस्ट और आर्टिकल बेहद अच्छा लगा होगा अगर आप सभी ने मेरे इस पोस्ट को अच्छे से read किये होंगे तो आपको जरुर समझ में आया होगा|अगर आपको कुछ पूछना हो तो नीचे message box में comment कर बता सकते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *