प्रीति जिंटा Biography In Hindi

दोस्तों, प्रीति जिंटा हिंदी सिनेमा जगत की ऐसी महान नायिका और अभिनेत्री हैं जिनके पूरी दुनिया बहुत प्यार देती है और सभी के दिलों दिमाग में रहती हैं|आज इस पोस्ट के माध्यम से मै आपको प्रीति जिंटा जी के बारे में बताने जा रहा हूँ साथ ही आपको इनके जीवन से जुडी कुछ अहम् जानकारी भी साझा कर रहा हूँ उम्मीद है आप सभी को मेरा ये पोस्ट बेहद पसंद आएगा|तो आपको बताऊ प्रीति जिंटा भारतीय सिनेमा की सबसे सफल, सुंदर और प्रतिभाशाली अभिनेत्रियों में से एक हैं|प्रीति जिंटा का जन्म 31 जनवरी 1975 को शिमला, हिमाचल प्रदेश में हुआ था|प्रीति जिंटा ने 13 वर्ष की आयु में अपने पिता दुर्गानन्द जिंटा, जो भारतीय सेना के एक अधिकारी थे, को कार दुर्घटना में मर जाने के कारण खो दिया था|

इसे भी पढ़ें – अनिल कपूर का जीवन परिचय|

इतना ही नही दोस्तों प्रीति जिंटा की माँ नीलप्रभा जिंटा भी इस कार दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गईं थीं|प्रीति जिंटा ने सेंट बेडज़ कॉलेज से क्रिमिनल साइकोलॉजी (आपराधिक मनोविज्ञान) में डिग्री हासिल की|सुरुआत में प्रीति बहुत ही दिक्कत में थी और जीवन संघर्ष भरा था|लेकिन अपने मेहनत और लगन से वो आज पूरी दुनिया पर राज कर रही हैं|लाखो दिलों की धड़कन डिंपल गर्ल यानि प्रीती जिंटा हिंदी सिनेमा की जानी-मानी अभिनेत्रीयोँ में से एक हैं|तो चलिए अब प्रीति जी के जीवन पर प्रकाश डालते हैं|

प्रीति जिंटा का जीवन परिचय

प्रीति जिंटा का जीवन परिचय –

पूरा नाम – प्रीति जिंटा|

जन्म – 31 जनवरी 1975|

जन्म स्थान – शिमला, हिमाचल प्रदेश|

माता पिता – नीलप्रभा जिंटा, दुर्गानन्द जिंटा|

दोस्तों प्रीति जिंटा ने हिंदी फिल्मो में अपना वर्चस्व स्थापित किया है|हिंदी फिल्मों के अलावा तेलुगु,तमिल व् पंजाबी फिल्मों में भी काम करती हैं। प्रीती ने अब तक के अपने फ़िल्मी करियर में कई बेहतरीन फ़िल्में की हैं।  उन्हें उनके बेहतरीन अभिनय के लिए उन्हें उनकी डेब्यू फिल्म दिल से के लिए फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ नई अदाकारा के अवार्ड से नवाजा गया|इसके बाद साल 2003 में उन्हें फिल्म कल हो ना हो के लिए फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अदाकारा के पुरूस्कार से सम्मानित किया गया|

प्रीति जिंटा का जीवन परिचय

प्रीति ज़िंटा बचपन में लड़कों जैसे रहती थी, उन्होंने अपने पिता की सैन्य पार्श्वभूमी को अपने परिवार के रहन सहन पर बेहद प्रभावी बताया|वे बच्चों को अनुशासन और समय की पाबन्दी का महत्व समझते थे|उन्होंने शिमला के कॉन्वेंट ऑफ़ जीज़स एंड मेरी बोर्डिंग विद्यालय में पढ़ाई की हालाँकि बोर्डिंग विद्यालय में उन्हें अकेलापन महसूस होता था परन्तु उन्होंने ये भी कहा की उन्हें वहाँ बेहद बढ़िया दोस्त भी मिले|छात्रा के तौर पर उन्हें साहित्य से प्यार हो गया, खास कर विलियम शेक्सपियर और उनकी कविताओं से|जिंटा के अनुसार उन्हें विद्यालय का कार्य बेहद पसंद था और उन्हें अछे अंक भी मिलते थे|अपने खाली समय में वे बास्केटबॉल जैसे खेल खेलती थी|

आपको बताये जिस तरह प्रीती को उनके बॉलीवुड डेब्यू फिल्म के लिए फिल्मफेयर पुरुस्कार से नवाजा गया, उसी तरह उन्हें उनके पहले अंतर्राष्ट्रीय किरदार कनेडियाई फ़िल्म हेवन ऑन अर्थ के लिए सिल्वर ह्यूगो पुरस्कार से सम्मानित किया गया|उन्हें यह पुरुस्कार शिकागो अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म समारोह में प्रदान किया गया|वह इंडियन प्रीमियर लीग IPL क्रिकेट टीम किंग्स XI पंजाब के सह-मालकिन भी है|

फ़िल्मी सफ़र –

प्रीती जिंटा को अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत शेखर कपूर निर्देशित फिल्म तारारपमपम से करनी थी|इस फिल्म में उनके अपोजिट ऋतिक रोशन थे,लेकिन यह किसी कारण से बन नहीं सकी, उसके बाद कपूर ने निर्देशक मणि रत्नम को उनकी आगामी फिल्म शाहरुख़ खान और मनीषा कोइराला स्टाटर फिल्म दिल से में लेने के लिए आग्रह किया|फिल्म दिल से में प्रीती सहायक अभिनेत्री के तौर पर नजर आयीं थी|इस फिल्म में प्रेत्य दर्शकों  20 मिनट ही नजर आई, लेकिन इन 20 मिनट में उन्होंने अपने संजीदे अभिनय से दर्शकों को अपना कायल बना लिया|उन्हें इस फिल्म में उनके बेहतरीन अभिनय के लिए फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ नई अदाकारा के अवार्ड से भी नवाजा गया|

प्रीति जिंटा का जीवन परिचय

इसे भी पढ़ें – हेमा मालिनी का जीवन परिचय|

दोस्तों उनकी बतौर मुख्य नायिका फिल्म सोल्जर थी|इस फिल्म में उनके अपोजिट बॉबी देओल नजर आये थे|यह फिल्म एक्शन-थ्रिलर फिल्म थी|यह फिल्म उस साल की सुपरहिट फिल्म साबित हुई|इसके बाद प्रीती ने फिल्म क्या कहना में एक  चैलेंजिंग किरदार निभाया|इस फिल्म की कहानी कुँवारी माँ व युवा गर्भधारण जैसी समस्याओं पर आधारित थी|उन्होंने इस फिल्म में कुंवारी माँ की भूमिका अदा कर दर्शकों, आलोचकों को हतप्रभ कर दिया|उन्हें इस फिल्म के लिए कई अवार्ड्स में नामंकन भी मिला| जिनमे उनका पहला फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार नामांकन शामिल है|

फिल्मे –

सोल्जर, दिल से, दिल्लगी, हर दिल जो प्यार करेगा, मिशन कश्मीर, क्या कहना, दिल चाहता है, चोरी चोरी चुपके चुपके, फ़र्ज़, ये रास्ते हैं प्यार के, कल हो ना हो, लक्ष्य, वीर-ज़ारा, कभी अलविदा ना कहना, सलाम नमस्ते, ओम शाँति ओम,  जानेमन, झूम बराबर झूम, रब ने बना दी जोड़ी, इश्क़ इन पेरिस|

अवार्ड और पुरस्कार –

दोस्तों प्रीती जिंटा को 2003 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार से नवाजा गया|उनका पहला अंतर्राष्ट्रीय किरदार कनेडियाई फ़िल्म हेवन ऑन अर्थ में था जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का सिल्वर ह्यूगो पुरस्कार 2008 के शिकागो अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म समारोह में प्रदान किया गया|आपको बताये अभिनय के आलावा जिंटा ने बीबीसी न्यूज़ ऑनलाइन में कई लेख लिखे है|साथ ही वे एक सामाजिक कार्यकर्त्ता, टेलिविज़न मेज़बान और नियमित मंच प्रदर्शनकर्ता है|वे पीज़ेडएनज़ेड इण्डिया प्रोडक्शन कंपनी की संस्थापक भी है जिसकी स्थापना उन्होंने अपने पूर्व-साथी नेस वाडिया के साथ की है और दोनों साथ-ही-साथ इंडियन प्रीमियर लीग की क्रिकेट टीम किंग्स XI पंजाब के मालिक भी है|

इसे भी पढ़ें – श्रीदेवी का जीवन परिचय|

दोस्तों इस तरह आज आप सभी ने मेरे इस पोस्ट में मशहूर अभिनेत्री प्रीति जिंटा के बारे में कुछ जानकारी ली उम्मीद के साथ मै कह सकता हूँ आप सभी को मेरा ये आर्टिकल बहुत अच्छा लगा होगा अगर आपको मेरा ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो नीचे comment कर जरुर बताये साथ ही अगर आपको कुछ पूछना या बताना हो तो comment box में बता सकते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.