भाई दूज 2017 की Date और पूरी जानकारी

दोस्तों, जैसा की आप सभी जानते हैं और वर्षों से मनाते चले आ रहे हैं कि दीवाली कार्तिक महीने में होती है और उसके बाद भाई दूज का पर्व मनाया जाता है ये त्यौहार सबसे पवित्र त्यौहार होता है|आपको बताये इस बार यानि 2017 में भाई दूज 21 अक्टूबर दिन शनिवार को मनाया जायेगा|दोस्तों पूरे देश में भाई दूज का त्यौहार बड़े श्रद्धा और सौहार्द के साथ मनाया जाता है|आज इस आर्टिकल के माध्यम से मै आपको बताने जा रहा हूँ कि भाई दूज कब है और इससे जुडी कुछ अहम् जानकरी भी आप सभी से साझा करने जा रहा हूँ|सभी गूगल पर सर्च करते हैं भाई दूज का मुहूर्त कब है, भाई दूज की कथा कौन सी है और भाई दूज के quotes और शायरी|तो आज मै आपको इस पोस्ट में कुछ ऐसी ही छोटी छोटी जानकारी share कर रहा हूँ उम्मीद है आपको जरुर पसंद आएगा|

भाई दूज की date और पूरी जानकारी

जैसा की आप सभी जानते हैं भाई दूज को यम द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है और मनाया जाता है|आपको बताऊ भाई दूज जिसे भातृद्वितीया के नाम से भी जाना जाता है कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाए जाने वाला हिन्दू धर्म का पर्व है जिसे यम द्वितीया भी कहते हैं|भाईदूज में हर बहन रोली एवं अक्षत से अपने भाई का तिलक कर उसके उज्ज्वल भविष्य के लिए आशीष देती हैं|भाई अपनी बहन को कुछ उपहार या दक्षिणा देता है|भाईदूज दिवाली के दो दिन बाद आने वाला ऐसा पर्व है, जो भाई के प्रति बहन के स्नेह को अभिव्यक्त करता है एवं बहनें अपने भाई की खुशहाली के लिए कामना करती हैं|अब आइये जानते हैं इसका शुभ मुहूर्त कौन सा है और इसकी कथाएं कौनसी हैं|

इसे भी पढ़ें – करवा चौथ की date और HD wallpaper.

भाई दूज की date और पूरी जानकारी

भाई दूज के बारे में –

भाई दूज की पूरी जानकारी

इसे भी पढ़ें – धनतेरस पूजा विधि और HD wallpaper.

दोस्तों भाई दूज का पर्व दीपावली के तीसरे दिन मनाया जाता है|इस दिन वि‍वाहिता बहनें भाई बहन अपने भाई को भोजन के लिए अपने घर पर आमंत्रित करती है और गोबर से भाई दूज परिवार का निर्माण कर, उसका पूजन अर्चन कर भाई को प्रेम पूर्वक भोजन कराती है|बहन अपने भाई को तिलक लगाकर, उपहार देकर उसकी लम्बी उम्र की कामना करती है|भाई दूर से जुड़ी कुछ मान्यताएं हैं जिनके आधार पर अलग-अलग क्षेत्रों में इसे अलग-अलग तरह ये मनाया जाता है|

भाई दूज की date और पूरी जानकारी

आपको बताये इस त्यौहार के पीछे एक किंवदंती यह है कि यम देवता ने अपनी बहन यमी जिसे यमुना कहा जाता है को इसी दिन दर्शन दिया था, जो बहुत समय से उससे मिलने के लिए व्याकुल थी|अपने घर में भाई यम के आगमन पर यमुना ने प्रफुल्लित मन से उसकी आवभगत की|यम ने प्रसन्न होकर उसे वरदान दिया कि इस दिन यदि भाई-बहन दोनों एक साथ यमुना नदी में स्नान करेंगे तो उनकी मुक्ति हो जाएगी|इसी कारण इस दिन यमुना नदी में भाई-बहन के एक साथ स्नान करने का बड़ा महत्व है|इसके अलावा यमी ने अपने भाई से यह भी वचन लिया कि जिस प्रकार आज के दिन उसका भाई यम उसके घर आया है, हर भाई अपनी बहन के घर जाए|तभी से भाईदूज मनाने की प्रथा चली आ रही है|

इसे भी पढ़ें – गोवर्धन पूजा की date और HD wallpaper.

भाई दूज की date और पूरी जानकारी

सभी बहने अपने भी की लम्बी उम्र की कामना करती हैं और जिनकी बहनें दूर रहती हैं, वे भाई अपनी बहनों से मिलने भाईदूज पर अवश्य जाते हैं और उनसे टीका कराकर उपहार आदि देते हैं|बहनें पीढियों पर चावल के घोल से चौक बनाती हैं|इस चौक पर भाई को बैठा कर बहनें उनके हाथों की पूजा करती हैं|पूरे भारतवर्ष में भाई दूज का त्यौहार हर्षौल्लास के साथ मनाया जाता है|

इसे भी पढ़ें – दीवाली 2017 की date और HD wallpaper.

भाई दूज की date और पूरी जानकारी

सूर्यदेव की पत्नी छाया की कोख से यमराज तथा यमुना का जन्म हुआ|यमुना अपने भाई यमराज से स्नेहवश निवेदन करती थी कि वे उसके घर आकर भोजन करें|लेकिन यमराज व्यस्त रहने के कारण यमुना की बात को टाल जाते थे|कार्तिक शुक्ल द्वितीया को यमुना अपने द्वार पर अचानक यमराज को खड़ा देखकर हर्ष-विभोर हो गई|प्रसन्नचित्त हो भाई का स्वागत-सत्कार किया तथा भोजन करवाया|इससे प्रसन्न होकर यमराज ने बहन से वर मांगने को कहा।तब बहन ने भाई से कहा कि आप प्रतिवर्ष इस दिन मेरे यहां भोजन करने आया करेंगे तथा इस दिन जो बहन अपने भाई को टीका करके भोजन खिलाए उसे आपका भय न रहे|यमराज ‘तथास्तु’ कहकर यमपुरी चले गए|ऐसी मान्यता है कि जो भाई आज के दिन यमुना में स्नान करके पूरी श्रद्धा से बहनों के आतिथ्य को स्वीकार करते हैं उन्हें तथा उनकी बहन को यम का भय नहीं रहता|

इसे भी पढ़ें – माँ काली पूजन विधि और HD wallpaper.

भाई दूज की date और पूरी जानकारी

दोस्तों मै समझता हूँ आप सभी को मेरा ये पोस्ट बहुत अच्छा लगा होगा और अगर आप सभी ने अच्छे से मेरे इस पोस्ट को read किये होंगे तो आपको भाई दूज से जुडी सभी जानकारी मिल गयी होगी|अगर आपको कुछ पूछना या बताना हो तो नीचे message box में comment कर पूछ सकते हैं आपकी जरुर मदद की जाएगी|अब मै उम्मीद के साथ कह सकता हूँ आप सभी को मेरा ये आर्टिकल बेहद अच्छा लगा होगा अगर आप मेरे वेबसाइट पर विजिट करेंगे तो आपको ऐसे ही रोचक जानकारी मिलती रहेगी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *