Dharmendra Biography In Hindi

दोस्तों, धर्मेन्द्र धरम सिंह देओल एक भारतीय फिल्म अभिनेता और 14 वी भारतीय लोकसभा के सदस्य है|शायद कोई हो जिसे धर्मेन्द्र के बारे में जानकारी न हो|1997 में हिंदी सिनेमा में उनके योगदान के लिये उन्हें फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया गया है|धर्मेन्द्र का जन्म 8 दिसम्बर 1935 को फगवाडा पंजाब में हुआ था|धर्मेन्द्र ने अपनी शुरुआती पढाई फगवाडा के आर्य हाई स्कूल एवं रामगढ़िया स्कूल से की है|आज इस पोस्ट के माध्यम से मै आपको धर्मेन्द्र  बारे में बताने जा रहा हूँ साथ ही आपको इनके जीवन से जुडी कुछ अहम जानकारी पेश कर रहा हूँ उम्मीद है आपको जरुर पसंद आएगा|

वैसे  आपको बताता चलू धर्मेन्द्र ने दो शादियां की हैं|उनकी पहली पत्नी प्रकश कौर हैं|जिनके तीन बच्चे हैं- सनी देओल,बॉबी देओल और बेटी अजिता देओल|उनके दोनों बेटे हिंदी सिनेमा में फिल्म अभिनेता हैं, बल्कि बेटी शादी के बाद विदेश में रहती हैं|उनकी दूसरी पत्नी हिंदी सिनेमा की दिग्गज अभिनेत्री और ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी हैं|उनकी दो बेटियां हैं|इशा और अहाना देओल, उनकी दोनों बेटियों की शादी हो चुकी हैं|तो चलिए अब विस्तार से जानते हैं धर्मेन्द्र का जीवन परिचय|

धर्मेन्द्र का जीवन परिचय

धर्मेन्द्र का जीवन परिचय –

पूरा नाम – धर्मेंद्र सिंह देओल|

उपनाम – धर्म, गर्म धर्म, बॉलीवुड के ही – मैन|

जन्म – 8 दिसम्बर 1935|

जन्म स्थान – गांव: नस्राली, तहसील: खन्ना, जिला: लुधियाना, राज्य: पंजाब, भारत|

माता पिता – सतवंत कौर , केवल किशन सिंह देओल (सरकारी स्कूल शिक्षक)|

पत्नी – प्रकाश कौर, हेमा मालिनी|

बच्चे – सनी देओल, बाबी देओल|

दोस्तों धर्मेन्द्र जी का जन्म धरम सिंह देओल के नाम से पंजाब के लुधियाना जिले के नसराली ग्राम में हुआ, उनके पिता का नाम केवल किशन सिंह देओल और माँ का नाम सतवंत कौर है|उनका पैतृक गाँव लुधियाना में पखोवाल के पास का दंगांव था|उन्होंने अपना प्रारंभिक जीवन सहनेवाल में बिताया और लुधियाना के कलन के लालटन की गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल से शिक्षा प्राप्त की|जहाँ उनके पिताजी ही स्कूल के हेडमास्टर थे|उन्होंने इंटरमीडिएट की पढाई 1952 में फगवारा के रामगढ़िया कॉलेज से पूरी की है|

धर्मेन्द्र का जीवन परिचय

आपको बताना चाहूँगा रोल चाहे फिल्म सत्यकाम के सीधे सादे ईमानदार हीरो का हो, फिल्म शोले के एक्शन हीरो का हो या फिर फिल्म चुपके चुपके के कॉमेडियन हीरो का, सभी को सफलता पूर्वक निभा कर दिखा देने वाले धर्मेंद्र सिंह देओल अभिनय प्रतिभा के धनी कलाकार हैं|सन् 1960 में फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरे से अभिनय की शुरुवात करने के बाद पूरे तीन दशकों तक धर्मेंद्र चलचित्र जगत में छाये रहे|केवल मेट्रिक तक ही शिक्षा प्राप्त की थी उन्होंने|स्कूल के समय से ही फिल्मों का इतना चाव था कि दिल्लगी (1949) फिल्म को 40 से भी अधिक बार देखा था उन्होंने|अक्सर क्लास में पहुँचने के बजाय सिनेमा हॉल में पहुँच जाया करते थे|फिल्मों में प्रवेश के पहले रेलवे में क्लर्क थे, लगभग सवा सौ रुपये तनख्वाह थी|19 साल की उम्र में ही प्रकाश कौर के साथ उनकी शादी भी हो चुकी थी और अभिलाषा थी बड़ा अफसर बनने की|

इसे भी पढ़ें – श्रीदेवी का जीवन परिचय|

फ़िल्मी सफ़र –

दोस्तों हम सभी जानते हैं फिल्मफेयर मैगज़ीन न्यू टैलेंट अवार्ड जीतने के बाद पंजाब से मुंबई काम ढूंढने के इरादे से आये थे|1960 में अर्जुन हिंगोरानी की आई फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरे से उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यू किया था|इसके बाद 1961 में आई फिल्म बॉय फ्रेंड में वे सह-कलाकार की भूमिका में नजर आये और फिर 1960 से 1967 के बीच उन्होंने कई रोमांटिक फिल्मे की|उन्होंने नूतन के साथ सूरत और सीरत (1962), बंदिनी (1963), दिल ने फिर याद किया (1966) और दुल्हन एक रात की (1967) में काम किया है और माला सिंह के साथ अनपढ़ (1962), पूजा के फूल (1964), बहारें फिर भी आएँगी में काम किया है|

दोस्तों आपको बताऊ नंदा के साथ आकाशदीप, सायरा बानू के साथ ‘शादी’ और आयी मिलन की बेला (1964) और मीना कुमारी के साथ मैं भी लड़की हूँ (1964), काजल (1965), पूर्णिमा (1965) और फूल और पत्थर (1966) में काम किया है|फिल्मफेयर के एक प्रतियोगिता के दौरान अर्जुन हिंगोरानी को धर्मेंद्र पसंद आ गये और हिंगोरानी जी ने अपनी फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरे के लिये 51 रुपये साइनिंग एमाउंट देकर उन्हें हीरो की भूमिका के लिये अनुबंधित कर लिया|पहली फिल्म में नायिका कुमकुम थीं|पहली फिल्म से कुछ विशेष पहचान नहीं बन पाई थी इसलिये अगले कुछ साल संघर्ष के बीते|संघर्ष के दिनों में जुहू में एक छोटे से कमरे में रहते थे|

धर्मेन्द्र का जीवन परिचय

फिल्म अनपढ़ (1962), बंदिनी (1963) तथा सूरत और सीरत (1963) से लोगों ने उन्हें जाना, पर स्टार बने ओ.पी. रल्हन की फिल्म फूल और पत्थर (1966) से|धर्मेंद्र ने200 से भी अधिक फिल्मों में काम किया है, कुछ अविस्मरणीय फिल्में हैं अनुपमा, मँझली दीदी, सत्यकाम, शोले, चुपके चुपके आदि|उनकी सबसे सफलतम सह-कलाकारा हेमा मालिनी थी, जो बाद में उनकी पत्नी भी बनी|इन दोनों ने कई फिल्मो में एक साथ काम किया है जिनमे राजा जानी, सीता और गीता, शराफत, नया ज़माना, पत्थर और पायल, तुम हसीन मैं जवान, जुगनू, दोस्त, चरस, माँ, चाचा भतीजा, आज़ाद और शोले शामिल है|इंडिया टाइम्स ने शोले फिल्म को “टॉप 25 मस्ट सी बॉलीवुड फिल्म ऑफ़ ऑल टाइम” भी बताया|2005 में 50 वे एनुअल फिल्मफेयर अवार्ड के जज ने शोले फिल्म को फिल्म फेयर बेस्ट फिल्म ऑफ़ 50 इयर का अवार्ड भी दिया|

इसे भी पढ़ें – राजेश खन्ना का जीवन परिचय|

दोस्तों, इस तरह आज आप सभी ने इस आर्टिकल में जाना धर्मेन्द्र के बारे में उम्मीद है आपको बहुत अच्छा लगा होगा अगर आपको मेरा ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो नीचे comment कर जरुर बताये|अगर आप्कोक्चु पूछना या बताना हो तो आप comment box में बता सकते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *