Tag Archives: खांसी के कारण

खांसी का घरेलू उपचार in Hindi

दोस्तों खांसी एक ऐसी बीमारी है जिसका प्रकोप अधिकतर सर्दी के मौसम में देखने को मिलता है|सर्दी के कारण खांसी की बीमारी हो जाती है साथ ही खांसी बहुत तरह की होती है खांसी सूखी भी होती है|वैसे आपको बताये कफ एक ऐसी परेशानी है जो आम बात हो गयी है बच्चा हो या बुड्ढा सभी में ऐसी समस्या देखने को मिल रही है|आपको बताऊ ये समस्या हर मौसम में देखी जा रही है सर्दी का मौसम हो या गर्मी का|खांसी होने पर बहुत परेशानी आ जाती है और ऐसे में जकड़न की समस्या बहुत बिकराल हो जाती है|

खांसी का घरेलू उपचार in hindi

आपको बताये लम्बे समय से चली आ रही खांसी आपको पूरी तरह से दुखी कर सकती है और जितने जल्दी हो सके आप इससे छुटकारा पाने की सोचते हैं|खांसी सामान्यतः जुकाम और फ्लू का साइड इफ़ेक्ट होती है,लेकिन यह एलर्जी, अस्थमा, एसिड रिफ्लक्स, शुष्क हवा और कुछ दवाओं के कारण भी हो सकती है|खांसी अत्यधिक पीड़ादायक और परेशान करने वाली हो सकती है|आज इस आर्टिकल के माध्यम से मै आपको खांसी के कारण बताऊंगा साथ ही इसके उपचार के बारे में बताने जा रहा हूँ अगर आप मेरे इस पोस्ट को अच्छे से पढेंगे तो मै उम्मीद के साथ कह सकता हूँ आपको जरुर पसंद आएगा|

इसे भी पढ़ें – नाक की हड्डी का देशी इलाज|

खांसी होने के कारण –

  • सर्दी के कारण खांसी की समस्या देखने को मिलती है|
  • फ़्लू के कारण भी खांसी की समस्या का सामना करना पड़ता है|
  • वायरल संक्रमण के चलते भी खांसी का असर हो जाता है|
  • आज Smoking भी एक समस्या बन गयी है इससे भी खांसी हो जाती है|
  • धूल मिट्टी के संपर्क में रहने से भी ऐसी समस्या हो जाती है|
  • इतना ही नही अगर कोई बड़ी बीमारी हो जाती है जैसे T.B, फेफड़ा और अस्थमा जैसी बीमारी होने पर भी खांसी का असर हो जाता है|इस तरह आप सभी ने जाना कि खांसी के मुख्य कारण इस प्रकार रहे अब आइये जानते हैं खांसी के घरेलू उपचार कौन से हैं और इसका सही से इलाज क्या है आइये जानते हैं|

खांसी का घरेलू उपचार –

बच्चो की खांसी का घरेलू इलाज in hindi

  1. शहद का उपयोग –

दोस्तों शहद का उपयोग करना, खांसी को दबाने का और गले की खराश में राहत पाने का एक प्रभावशाली तरीका है|कई अध्ययनों में यह पाया गया है कि शहद न सिर्फ सामान्य तौर पर मिलने वाली खांसी की दवाओं के समान खांसी को कम करने में असरदार है बल्कि कभी-कभी उनसे भी ज्यादा प्रभावशाली होती है|शहद म्यूकस मेम्ब्रेन को आवरित करने और राहत पहुँचाने में मदद करती है|अगर खांसी के कारण सोने में परेशानी होती हो तो सोने के पहले शहद का सेवन करना बहुत लाभकारी हो सकता है|इसलिए आप इसका इस्तेमाल आसानी से कर सकते हैं और ये बहुत ही आसानी से मिल भी जाता है|

इसे भी पढ़ें – चेहरे का दाना हटाने का देशी इलाज|

2. मुलेठी की चाय का इस्तेमाल –

वैसे आप सभी जानते हैं मुलेठी एक ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जो हमारे गले के लिए बहुत फायदेमंद होता है|मुलैठी की जड़ आपके श्वासतंत्र को राहत पहुंचाती है, सूजन को कम करने और म्यूकस को ढीला करने में भी मदद करती है|इसे बनाने के लिए, दो बड़ी चम्मच मुलैठी की सूखी जड़ को एक मग में रखें और इस मग में 8 औंस उबलता हुआ पानी डालें|10-15 मिनट तक भाप लगने दें|दिन में दो बार प्रतिदिन पियें आपको जरुर लाभ होगा|

3.अदरक का इस्तेमाल –

दोस्तों अदरक के गुण के बारे में आप सभी भली भांति परिचित हैं और सभी के घरों में इसका इस्तेमाल भी होता है|आपको बताये अदरक का रश आप शहद में मिलाकर सेवन करें बहुत लाभ होगा|इस तरह रोज सुबह आप अदरक को चबाचबाकर खा सकते हैं बहुत फायदा मिल सकता है|

4. नमक का सेवन –

दोस्तों नमक गले के लिए और खास कर खांसी के लिए बहुत फायदेमंद होता है|अगर आप नमक का इस्तेमाल करे तो आपको लाभ हो सकता है|

5. गाय के दूध का 15-20 ग्राम घी और काली मिर्च को एक कटोरी में लेकर हल्की आंच में गरम कीजिए|जब काली मिर्च गरम हो जाए तो उसे थोडा सा ठंडा करके लगभग 20 ग्राम पीसी मिश्री मिला दीजिए|उसके बाद काली मिर्च निकालकर खा लीजिए|इस खुराक को दो-तीन दिन तक लेने से खांसी बंद हो जाएगी|

इसे भी पढ़ें – पेट की गर्मी को ठीक करने का घरेलू इलाज|

6. खांसी होने पर सेंधा नमक की डली को आग पर अच्छे से गरम कर लीजिए|जब नमक की डली गर्म होकर लाल हो जाए तो तुरंत आधा कप पानी में डालकर निकाल लीजिए। सोने से पहले इस पानी को पीने से खांसी में काफी आराम मिलता है|

7. खांसी आने पर सोंठ को दूध में डालकर उबाल लीजिए|शाम को सोते वक्त इस दूध को पी लीजिए|ऐसा करने से कुछ दिनों में खांसी ठीक हो जाती है|

8. तुलसी, कालीमिर्च और अदरक की चाय पीने से भी खांसी समाप्त होती है|

9. हींग, त्रिफला, मुलेठी और मिश्री को नींबू के रस में मिलाकर चाटने से भी खांसी में फायदा मिलता है|

10. गरम दूध के इस्तेमला से भी आपको खांसी से रहत मिल सकती है अगर रात को सोते समय गरम दूध में सौंठ का इस्तेमाल करें तो मै उम्मीद के साथ कह सकता हूँ आपको जरुर लाभ मिलेगा|

इसे भी पढ़ें – मलेरिया से बचने के घरेलू उपाय|

दोस्तों इस तरह आप घर बैठे आसानी से खांसी से लाभ और राहत पा सकते हैं इसमें कोई संसय होना ही नही चाहिए|वैसे अगर आप खांसी से अधिक पीड़ित हैं तो main बताऊ आप तुलसी का इस्तेमाल करें उसी से आपको लाभ मिलेगा|अब मै समझ सकता हूँ आपको मेरे द्वारा बताये गए इस आर्टिकल में tips अच्छी लगी होगी अगर आप मेरे इस tips को अपनाएंगे तो जरुर लाभ होगा|अगर आपको कुछ पूछना हो तो नीचे message box में comment कर बता सकते हैं|