Tag Archives: पेशाब करते समय दर्द होने के कारण

पेशाब करते समय दर्द के कारण और उपचार

दोस्तों, आम तौर पर हम देखते हैं पेशाब से जुडी बहुत सी बिमारियों का शिकार हो जाते हैं हम सभी जैसे पेशाब करते समय जलन होना, पेशाब से खून आना, पेशाब पीली होना या फिर पेशाब करते समय दर्द होना ये ज्यादा तर महिलाओ में देखा जाता है|अगर समय पर इसे ध्यान न दिया जाये तो ये विकराल रूप ले लेती है|आज इस आर्टिकल के माध्यम में मै आप सभी को बताने जा रहा हू पेशाब करते समय दर्द होने का कारण क्या है और साथ ही इसका उपचार भी बताऊंगा|वैसे यह दर्द मूत्राशय, मूत्रमार्ग, और पेरेनियम में उत्पन्न होता है इसके मुख्य लक्षणों में दर्द और जलन शामिल है|इससे पहले वाले आर्टिकल में मैंने आपको बताया कि पेशाब में बदबू आने के क्या कारण होते हैं|

पेशाब करते समय दर्द के कारण और उपचार

पेशाब करते समय दर्द होने के कारण –

  • दोस्तों आपको बताये एक मूत्राशय का संक्रमण सबसे अधिक बार मूत्राशय के भीतर एक बैक्टीरियल संक्रमण के कारण होता है|मूत्राशय का संक्रमण का एक प्रकार यूटीआई होता है|मूत्राशय के संक्रमण में भी पेशाब के दौरान दर्द और जलन होती है|इसमें सामान्य से अधिक बार पेशाब भी आता है|
  • मूत्र मार्ग में संक्रमण दर्दनाक पेशाब के प्रमुख कारणों में से एक हैं|मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूटीआई) मुख्यतः मूत्राशय के संक्रमण, किडनी, प्रोस्टेट या अन्य कारणों से होता है|इन सभी बातों का ध्यान रखना जरुरी है|
  • ऑब्सट्रक्टिव यूरोपैथी तब होती है जब आपका मूत्र कुछ प्रकार की रुकावट के कारण मूत्रमार्ग और मूत्राशय से प्रवाह नहीं कर सकता|इसके कारण भी पेशाब करते समय दर्द होता है|
  • यूरेथराइटिस एक ऐसी स्थिति है जिसमें मूत्रमार्ग, या ट्यूब में सूजन और परेशान होती है|इसमें पेशाब करते वक्त उत्तेजना, दर्द और जलन होती हैं|यूरेथराइटिस में वीर्य या मूत्र में रक्त की उपस्थिति भी देखी गई है|
  • आपको बताये ब्लैडर हमारे यूरिनरी सिस्टम का हिस्सा होता है जिसके कारण पेशाब बाहर आता है|ब्लै‍डर के अंदर की जो झिल्ली होती है उसके कोशिकाओं के अनियंत्रि‍त तरीके से बढ़ने को ब्लै‍डर कैंसर कहा जाता है|पेशाब में रक्त और पेशाब करते समय दर्द आदि लक्षण हैं|
  • दोस्तों रेनाल सेल कार्सिनोमा को हाइपरनेफ्रोमा, रेनल एडीनोकार्किनोमा, या गुर्दा या गुर्दा कैंसर कहा जाता है|यह वयस्कों में पाए जाने वाले सबसे सामान्य प्रकार की किडनी कैंसर है|इस बीमारी में भी मरीज के मूत्र से रक्त आता है और दर्द होता है|
  • दोस्तों आपको बताये डिस्परेयूनिया एक तरह का दर्द होता है जो संभोग के दौरान जननांग क्षेत्र में या श्रोणि के भीतर होता है|यह दर्द तीव्र भी हो सकता है|डिस्परेयूनिया पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक सामान्य है|ऐसी स्थिति में पेशाब करते समय भी दर्द होता है|

इसे भी पढ़े – हीन भावना से कैसे बचें| 

पेशाब करते समय दर्द होने के लक्षण – 

  1. पेशाब का रंग पीला हो जाना|
  2. मूत्राशय में दर्द होना|
  3. पेशाब से बदबू आना|
  4. पेशाब बूँद बूँद करके आना|
  5. बार बार पेशाब का आना या बहुत कम आना|

पेशाब करते समय होने वाले दर्द का उपचार –

  • अगर किसी को पेशाब करते वक्त दर्द हो रहा हो तो ऐसे में एक बहुत आसान सा उपचार बताये इलाइची, बादाम और मिश्री को पीसकर पानी में घोल बना ले|अब इस घोल को आप रोज इस्तेमाल करे आपको बहुत लाभ मिलेगा|
  • दोस्तों अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करें तो मै बताऊ आपको ऐसी परेशानी आ ही नही सकती और अगर आप गुनगुना पानी पिए तो इससे निजाद मिल सकता है|

इसे भी पढ़े – पेशाब में खून का आना और उपचार| 

  • जितना अधिक हो सके आप हरी और पत्तेदार सब्जिओं का सेवन करें इससे आपको बहुत लाभ मिलेगा|
  • फल का सेवन करें|
  • अनार के जूस का सेवन करें बहुत फायदा मिलेगा|
  • चावल के माड में चीनी मिलाकर सेवन करें बहुत फायदा होगा|
  • अगर आपके पेशाब करते समय दर्द होता हो तो आप नारियल के पानी का सेवन करें|
  • साफ़ सफाई का विशेष ध्यान रखें|

दोस्तों इस तरह आप पेशाब से जुडी हर समस्याओ से बच सकते हैं बस थोड़ी सावधानी की जरुरत है|अब मै समझ सकता हु आप सभी को मेरा ये पोस्ट बहुत अच्छा लगा होगा अगर आप मेरे द्वारा बताये गए तरीकों को अपनाएंगे तो उम्मीद है आपको जरुर लाभ मिलेगा|अगर आपको कोई दिक्कत है या कुछ पूछना चाहते है तो निचे message box में लिखकर पूछ सकते हैं|