Tag Archives: मुलेठी के फायदे In Hindi

मुलेठी के फायदे In Hindi

दोस्तों मुलेठी के बारे में हम सभी जानते हैं और इस्तेमाल भी कर रहे हैं|सभी लोग इसका सेवन करते हैं|मुलेठी एक ऐसी जड़ी बूटी है जिसके सेवन से हमारी आवाज और गला दोनों शुद्ध हो जाते हैं|गले में खराश हो या खांसी, मुलेठी चूसने से इसमें राहत मिलती है|इसके अलावा भी मुलेठी में कई ऐसे गुण हैं, जो शायद आप पहले नहीं जानते होंगे|जानिए मुलेठी आपको किस प्रकार लाभ पहुंचा सकती है|मुलेठी बहुत गुणकारी औषधि है|

मुलेठी खाने के फायदे

आपको बताये मुलेठी के प्रयोग करने से न सिर्फ आमाशय के विकार बल्कि गैस्ट्रिक अल्सर के लिए फायदेमंद है|इसका पौधा 1 से 6 फुट तक होता है। यह स्‍वाद में मीठी होती है इसलिए इसे यष्टिमधु भी कहा जाता है|असली मुलेठी अंदर से पीली, रेशेदार एवं हल्की गंधवाली होती है|सूखने पर इसका स्‍वाद अम्‍लीय हो जाता है|आज इस आर्टिकल के माध्यम से मै आपको बताने जा रहा हूँ की मुलेठी खाने के क्या क्या फायदे है और इसका सेवन कैसे किया जाये जिससे लाभ अधिक हो आइये जानते हैं|

इसे भी पढ़ें – हल्दी खाने के फायदे in hindi.

मुलेठी के बारे में  –

  1. दोस्तों बताना चाहूँगा मुलहठी का लैटिन नाम ग्लाईसीराइजा ग्लिब्रा है जिसका शाब्दिक अर्थ ‘मीठी जड़’ है|इसे संस्कृत में मधुक, यष्टिमधु, मधुयष्टि, क्लीतक आदि नामों से जाना जाता है| हिंदी में इसे मुलेठी, मुलहटी, या जेठीमध कहते है|
  2. इसका अंग्रेजी में नाम लिकोरिस है|यह स्वभाव में ठंडी, पचने में भारी, स्वादिष्ट, आँखों के लिए अच्छी, बल और वर्ण को बढ़ाने वाली है|यह शुक्र और वीर्य वर्धक है|यह उलटी, खून के विकार, गले के रोग, पित्त-वात-कफ दोष दूर करने वाली और अधिक प्यास, क्षय को नष्ट करने वाली है|

खड़ी मुलेठी पाउडर खरीद सकते हैं|

    1. मुलेठी शिम्बी-कुल या लेगुमिनोसे परिवार का पौधा है|इसका क्षुप बहुवर्षीय होता है जो की 2 फुट से 6 फुट तक ऊँचा हो सकता है|आपको बताये इसके पत्ते 4-7 के युग्म पेयर में होते हैं जिनका आकार आयताकार-अंडाकार- भालाकर होता है|


  1. दोस्तों पत्तों के आगे के भाग नुकीले होते है|फूल का रंग हल्का गुलाबी/बैंगनी होता है|इसकी शिम्बी या फली 2.5 cm से लेकर 1 इंच तक लम्बी होती है|आकर में यह लम्बी चपटी होती है और इनमे 2-3 किडनी के आकार के बीज होते है|

मुलेठी के फायदे –

मुलेठी के फायदे in hindi

  • लीवर के लिए फायदेमंद –

दोस्तों मुलेठी में सभी औषधीय गुण पाए जाते हैं|अगर आप मुलेठी का सेवन करते हैं तो मै बताऊ आपको कभी लीवर की बीमारी नही हो सकती है|इससे आप स्वस्थ रह सकते हैं|

  • गले के लिए रामवाण –

मुलेठी में पाए जाने वाले तत्व हमारे गले के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं|इसके इस्तेमाल से अगर किसी के गले में खरास रहती है तो ऐसे में अगर मुलेठी को मुह में रखकर उसके रश को धीरे धीरे निगलें तो मै उम्मीद के साथ कह सकता हूँ आपको जरुर लाभ मिलेगा|इसके सेवन से आपकी आवाज बहुत मधुर हो जाएगी|इसका इस्तेमाल खासकर गायक करते हैं|

इसे भी पढ़ें – ब्रोकोली in hindi.

मुलेठी के अनसुने फायदे –

  • मुलेठी को काली-मिर्च के साथ खाने से कफ ढीला होता है|सूखी खांसी आने पर मुलेठी खाने से फायदा होता है। इससे खांसी तथा गले की सूजन ठीक होती है|अगर किसी को खांसी की अधिक परेशानी है तो मै बताऊ आपको मुलेठी का सेवन करना चाहिए बहुत लाभ होगा|
  • दोस्तों अगर मुंह सूख रहा हो तो मुलेठी बहुत फायदा करती है|इसमें पानी की मात्रा 50 प्रतिशत तक होती है|मुंह सूखने पर बार-बार इसे चूसें|इससे प्‍यास शांत होगी|गले में खराश के लिए भी मुलेठी का प्रयोग किया जाता है|मुलेठी अच्‍छे स्‍वर के लिए भी प्रयोग की जाती है|

नारायणी मुलेठी पाउडर यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं|

  • मुलेठी महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है|मुलेठी का एक ग्राम चूर्ण नियमित सेवन करने से स्त्रियां, अपनी, योनि, सेक्‍स की भावना, सुंदरता को लंबे समय तक बनाये रख सकती हैं|
  • मुलेठी की जड़ पेट के घावों को समाप्‍त करती है, इससे पेट के घाव जल्‍दी भर जाते हैं। पेट के घाव होने पर मुलेठी की जड़ का चूर्ण इस्‍तेमाल करना चाहिए।
  • मुलेठी पेट के अल्‍सर के लिए फायदेमंद है|इससे न केवल गैस्ट्रिक अल्सर वरन छोटी आंत के प्रारम्भिक भाग ड्यूओडनल अल्सर में भी पूरी तरह से फायदा करती है|जब मुलेठी का चूर्ण ड्यूओडनल अल्सर के अपच, हाइपर एसिडिटी आदि पर लाभदायक प्रभाव डालता है|साथ ही अल्सर के घावों को भी तेजी से भरता है|
  • खून की उल्टियां होने पर दूध के साथ मुलेठी का चूर्ण लेने से फायदा होता है|खूनी उल्‍टी होने पर मधु के साथ भी इसे लिया जा सकता है|
  • हिचकी होने पर मुलेठी के चूर्ण को शहद में मिलाकर नाक में टपकाने तथा पांच ग्राम चूर्ण को पानी के साथ खिला देने से लाभ होता है|मुलेठी आंतों की टीबी के लिए भी फायदेमंद है|

दोस्तों इस तरह आज आप सभी ने जाना मुलेठी के बारे में उम्मीद है आपको इसके फायदे के बारे में जरुर पता चल गया होगा|अब मै आपको बताना चाहूँगा की इसके खाने से क्या नुक्सान है|आइये जानते हैं|

मुलेठी से नुकसान –

  1. आपको बताना चाहूँगा की अगर आप मुलेठी को दो सप्ताह से अधिक मुलेठी अधिक मात्रा में सेवन कर रहे हैं तो हानिकारक हो सकता है|
  2. मुलेठी हाई ब्लड प्रेशर और भी बहुत सी बीमारी का कभी कभी कारण बन जाती है|

इसे भी पढ़ें – अलसी बीज के फायदे in hindi.

दोस्तों इस तरह आप सभी ने आज जाना की मुलेठी खाने से क्या क्या फायदे मिल सकते हैं साथ ही इससे होने वाले नुक्सान के बारे में|अब मै समझ सकता हूँ आप सभी को मेरा ये पोस्ट बहुत अच्छा लगा होगा|अगर आप ने मेरे इस पोस्ट को अच्छे से read किया होगा तो आपको जरुर समझ में आया होगा|अब अगर आपको कुछ पूछना हो तो नीचे message box में comment कर बता सकते हैं|